आखिरी रण की तैयारी
Soucre - Dainikbhaskar.com

मुकाबला बराबरी पर है। टीम इंडिया के साथ कंगारूओं की चाहत भी आखिरी रण में बाजी मारकर सीरीज जीतने की है परन्तु आस्ट्रेलिया की दिक्कतें जहां शायद कुछ भी नहीं तो भारतीय टीम की समस्या रोहित-धवन का चोटिल होना है। ओपनिंग का क्रिकेट में काफी महत्त्व है और इस आखिरी बाजी में यही स्लाट माथापच्ची का है। दोनों के नहीं खेल पाने की स्थिति में शायद के एल राहुल फिर सेओपनिंग करते नजर आयेंगे, फिर भी एक विशेषज्ञ ओपनर की अनुपस्थिति समस्या ही है। हां, दोनों की उपलब्धता से बल्लेबाजी क्रम में परिवर्तन शायद नहीं हो। वैसे बेंगलुरु का चिन्नास्वामी स्टेडियम बहुत छोटा है, अतः अय्यर/पांडे के स्थान पर अपने लंबे छक्कों के लिए जाने जानेवाले शिवम् दुबे को शामिल करना उचित जान पड़ता है। वैसे भी दुबे के रहने से गेंदबाजी का विकल्प बढ़ जाता है जो भविष्य के लिहाज से अच्छा है।

अगर गेंदबाजी की ओर देखें तो परिवर्तन की संभावना कम ही है क्योंकि कंगारूओं की तरह टीम इंडिया का भी ध्यान सीरीज पर कब्जे की ही है सो प्रयोग करना सही नहीं होगा।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here